कृषि साख्यिकी

 

1. भू उपयोग समंक व फसलों के अन्‍तर्गत सिंचित व असिंचित क्षेत्रफलः-

जिलो से प्राप्‍त मौसम खरीफ, रबी व जायद रबी के जिन्‍सवारों से मौसमवार/ फसलवार सिचिंत-असिंचित क्षैत्रफल की राज्‍य स्‍तरीय सूचना तैयार की जाती है, साथ ही मिलान खसरा, पूरक मिलान खसरा के आधार पर कुल भौगोलिक क्षेत्रफल व उसका नवस्‍तरीय विभाजन संबंधी सूचना तथा साधनवार सिचिंत क्षैत्रफल व साधनों की संख्‍या की राज्‍य स्‍तरीय सूचना तैयार की जाती है. जिंसवार, मिलान खसरा एवं पूरक मिलान खसरा के आधार पर जिलों से प्राप्‍त कृषि अंकतालिकाओं के आधार पर राज्‍य स्‍तरीय कृषि अंकतालिका तैयार की जाती है.  

2. फसलों के औसत उपज व कुल उत्‍पादन के अनुमानः-

सामान्‍य फसल अनुमान सर्वेक्षण एवं फसल बीमा योजना अन्‍तर्गत एकल श्र,खला के तहत खरीफ व अन्‍तर्गत खरीफ व रबी की 24 मुख्‍य फसलों पर फसल कटाई प्रयोगों की आयोजना तैयार कर चयनित गॉंवों में फसल कटाई प्रयोगों की आयोजना तैयार की जाकर चयनित गांवों में फसल कटाई प्रयोगों के सम्‍पादन के आधार पर इन फसलों की औसत उपज प्रति हैक्‍टेयर व कुल उत्‍पादन अनुमान व गौण सूचनायें तैयार की जाती है.

3. फसल कटते समय के भावः-

मौसम खरीफ व रबी की 22 फसलों के फसल कटते समय के भाव, जिलों से प्राप्‍त कर जिलावार व राज्‍य स्‍तर पर संकलित किये जाते हैं.

4. फसलों के क्षेत्रफल व उत्‍पादन के पूर्वानुमानः-

जिलों से प्राप्‍त सूचना के आधार पर मुख्‍य 46 जिन्‍सों के क्षेत्रफल व उत्‍पादन के पूर्वानुमान जिलावार संकलित कर राज्‍य स्‍तरीय समंक तैयार किये जाते हैं.

5. वर्षा समंकः- राजस्‍थान के वर्षामापक केन्‍द्रों के आधार पर वर्षा की मात्रा संबंधी सूचना संकलित कर मासिक / वार्षिक समंक तैयार किये जाते हैं.

6. विविध कार्यः-

राजस्‍व मण्‍डल का वार्षिक प्रशासनिक प्रतिवेदन कृषि सांख्यिकी पर उच्‍च स्‍तरीय समनव्‍य समिति की बैठक संबंधी कार्य, राज्‍य कर्मचारियों की गणना व अन्‍य कृषि समंक संकलित व प्रतिवेदित किये जाते हैं.

 

 

Responsible Officer : Joint Director (Statistics)

Last Modified Date : 11/08/2016